ट्रेडिंग फॉरेक्स के लाभ

परिचय और नियम व्यापार

परिचय और नियम व्यापार
शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
हमारे हिंदू धर्म में कई तरह की मान्यताएं प्रचलित हैं, जिनमें न सिर्फ देवी-देवताओं का जिक्र मिलता है बल्कि इसमें कई तरह के शुभ-अशुभ संकेतों के बारे में भी बताया गया है। आप सही समझ रहे हैं आज हम ऐसे ही कुछ संकेतों के बारे में आपको बताने जा रहे हैं। दरअसल हम आपको बताने जा रहे हैं सोते व्यक्ति के ऊपर से लांघने से जुड़ी मान्यता के बारे में-

आपने अक्सर बड़े बुजुर्गों से कहते हुए सुना होगा कि कभी भी सोए हुए व्यक्ति के ऊपर से नहीं लांघना चाहिए। लेकिन क्या आप जानते हैं ऐसा क्यों? अगर नहीं तो आज हम आपको बताएंगे कि आखिर क्यों किसी सोए हुए व्यक्ति के ऊपर से नहीं लांघना चाहिए और साथ ये ही ये भी बताएंगे कि सोए व्यक्ति को अगर आप लांघ लेते हैं तो इससे क्या होता है।

कॉप-19 सीआईटीईएस: भारत के हस्तशिल्प निर्यातकों को बड़ी राहत

सुंदर शहर, पनामा में 14 से 25 नवंबर, 2022 तक पार्टियों के सम्मेलन की 19वीं बैठक; वन्य जीवों और वनस्पतियों की लुप्तप्राय प्रजातियों के अंतर्राष्ट्रीय व्यापार पर सम्मेलन (सीआईटीईएस) के लिए आयोजित की जा रही है।

शीशम (दालबर्जिया सिस्सू) को सम्मेलन के परिशिष्ट II में शामिल किया गया है, जिससे इसकी प्रजातियों के व्यापार के लिए सीआईटीईएस नियमों के पालन की आवश्यकता होती है। अभी तक 10 किलो से अधिक वजन की हर खेप के लिए सीआईटीईएस परमिट की आवश्यकता होती है। इस प्रतिबंध के कारण भारत से दालबर्जिया सिस्सू से बने फर्नीचर और हस्तशिल्प का निर्यात सूचीबद्ध होने से पहले अनुमानित 1000 करोड़ रुपये (129 मिलियन डॉलर) प्रति वर्ष से सूचीबद्ध होने के बाद लगातार कम होते हुए 500-600 करोड़ रुपये (64 से 77 मिलियन डॉलर) प्रति वर्ष रह गया है। दालबर्जिया सिस्सू उत्पादों के निर्यात में कमी ने प्रजातियों के काम से जुड़े लगभग 50,000 शिल्पकारों की आजीविका को प्रभावित किया है।

भारत की पहल पर वर्तमान बैठक में शीशम (दालबर्जिया सिस्सू) से निर्मित वस्तुओं जैसे फर्नीचर और कलाकृतियों की मात्रा को स्पष्ट करने के प्रस्ताव पर विचार किया गया। भारतीय प्रतिनिधियों द्वारा निरंतर किये गए विचार-विमर्श के बाद, इस बात पर सहमति बनी कि किसी भी संख्या में दालबर्जिया सिस्सू लकड़ी-आधारित वस्तुओं को बिना सीआईटीईएस परमिट के शिपमेंट में एकल खेप के रूप में निर्यात किया जा सकता है, यदि इस खेप के प्रत्येक उत्पाद का व्यक्तिगत वजन 10 किलो से कम है। इसके अलावा, इस बात पर भी सहमति बनी कि प्रत्येक वस्तु के परिचय और नियम व्यापार शुद्ध वजन के लिए केवल लकड़ी की मात्रा पर विचार किया जाएगा और उत्पाद में प्रयुक्त किसी अन्य वस्तु जैसे धातु आदि को नजरअंदाज किया जाएगा। यह भारतीय शिल्पकारों और फर्नीचर उद्योग के लिए बड़ी राहत की बात है।

यह भी पढ़ें : एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना (ओएनओआरसी) के तहत 77 करोड़ से अधिक पोर्टेबल लेनदेन किये गए

यह उल्लेख किया जा सकता है कि 2016 में जोहान्सबर्ग, दक्षिण अफ्रीका में पार्टियों के सम्मेलन (सीओपी) की 17वीं बैठक में सम्मेलन के परिशिष्ट II में जीनस दालबर्जिया की सभी प्रजातियों को शामिल किया गया था, जिससे प्रजातियों के व्यापार के लिए सीआईटीईएस नियमों के पालन की आवश्यकता थी। भारत में, दालबर्जिया सिस्सू (उत्तर भारत में रोज़वुड या शीशम) प्रजाति बहुतायत में पाई जाती है और इसे लुप्तप्राय प्रजाति नहीं माना जाता है। चर्चा के दौरान पार्टियों द्वारा यह विधिवत रूप से स्वीकार किया गया था कि दालबर्जिया सिस्सू एक लुप्तप्राय प्रजाति नहीं थी। हालांकि, दालबर्जिया की विभिन्न प्रजातियों को उनके तैयार रूपों को पृथक करने की चुनौतियों के बारे में चिंता व्यक्त की गई। कई देशों ने कहा कि विशेष रूप से सीमा शुल्क के सन्दर्भ में दालबर्जिया की तैयार लकड़ी को पृथक के लिए उन्नत तकनीकी उपकरण विकसित करने की तत्काल आवश्यकता है। इस पहलू को ध्यान में रखते हुए और तैयार लकड़ी को पृथक करने के लिए एक स्पष्ट तकनीक के अभाव में, कॉप सीआईटीईएस परिशिष्ट: II से प्रजातियों को हटाने पर सहमत नहीं हुआ। हालांकि, प्रत्येक वस्तु के वजन के सन्दर्भ में दी गई राहत से भारतीय शिल्पकार समुदायों की समस्या काफी हद तक हल हो जाएगी और उनके द्वारा उत्पादित वस्तुओं के निर्यात को भी बहुत प्रोत्साहन मिलेगा।

Asset Management क्या है?

एसेट मैनेजमेंट क्या है? [What is Asset Management? In Hindi]

Asset Management संगठनात्मक संपत्ति के अधिग्रहण, संचालन, रखरखाव, नवीकरण और निपटान की योजना बनाने और नियंत्रित करने की प्रक्रिया है। यह प्रक्रिया संपत्तियों की वितरण क्षमता में सुधार करती है और इसमें शामिल लागतों और जोखिमों को कम करती है। पर्याप्त रखरखाव और सिस्टम, लोगों और प्रक्रियाओं की उचित तैनाती संपत्ति जीवनचक्र पर पूंजी की सकारात्मक वृद्धि सुनिश्चित करती है।

एसेट मैनेजमेंट की लागत कितनी है? [How much does asset management cost?]

एसेट मैनेजर के पास कई तरह की फीस स्ट्रक्चर होते हैं। सबसे आम मॉडल प्रबंधन के तहत संपत्ति का एक प्रतिशत चार्ज करता है, जिसमें उद्योग का औसत $ 1 मिलियन तक लगभग 1% है, और बड़े पोर्टफोलियो के लिए कम है। अन्य लोग उनके द्वारा निष्पादित प्रत्येक व्यापार के लिए शुल्क ले सकते हैं। कुछ को अपने ग्राहकों को प्रतिभूतियों को बेचने के लिए कमीशन भी मिल सकता है।

एसेट मैनेजमेंट क्या है? [What is Asset Management? In Hindi]

क्योंकि ये प्रोत्साहन ग्राहक के हितों के खिलाफ काम कर सकते हैं, यह जानना महत्वपूर्ण है कि क्या आपकी प्रबंधन फर्म का ग्राहक के हितों की सेवा करने के लिए एक प्रत्ययी कर्तव्य है। अन्यथा, वे निवेश या व्यापार की सिफारिश कर सकते हैं जो ग्राहक के हितों की पूर्ति नहीं करते। Asset/Liability Management क्या है?

डिजिटल एसेट मैनेजमेंट क्या है? [What is Digital Asset Management?] [In Hindi]

डिजिटल एसेट मैनेजमेंट, या डीएएम, एक केंद्रीय रिपॉजिटरी में मीडिया एसेट्स को स्टोर करने की एक प्रक्रिया है, जहां उन्हें किसी संगठन के सभी सदस्यों द्वारा आवश्यक रूप से एक्सेस किया जा सकता है। यह आमतौर पर बड़ी ऑडियो या वीडियो फ़ाइलों के लिए उपयोग किया जाता है, जिन पर कर्मचारियों की कई टीमों द्वारा परिचय और नियम व्यापार एक साथ काम करने की आवश्यकता होती है।

बुधवार का राशिफल: कर्क राशि के लोगों को निराशा से और कुंभ राशि के लोगों को पारिवारिक विवादों से बचना होगा

बुधवार, 16 नवंबर को मेष राशि के लोगों को सतर्क रहकर काम करना होगा। कर्क राशि के लोगों को निराशा से बचना होगा। कुंभ राशि के लोग पारिवारिक विवादों से बचेंगे तो बेहतर रहेगा। टैरो कार्ड रीडर प्रणिता देशमुख से जानिए सभी 12 राशियों के लिए दिन कैसा रह सकता है.

मेष - TWO OF WANDS

जीवन में आगे बढ़ने के लिए सतर्क रहने की कोशिश करें। कई कामों में स्थिरता रहेगी। हौसला बढ़ाने के लिए समय उपयुक्त है। विचारों की दिशा बदलती हुई नजर आ रही है। लक्ष्य बदलेंगे। जिस बात से संबंधित चिंता होती है, वह कुछ दिनों में दूर हो सकती है।

करियर : काम के विस्तार के बारे में बिल्कुल न सोचें, फिलहाल स्थिरता प्राप्त करने पर जोर दें।

लव : रिलेशनशिप से संबंधित लिया गया निर्णय अन्य लोगों को समझ आने में वक्त लगेगा।

हेल्थ : बदन दर्द के कारण थकान महसूस हो सकती है।

लकी कलर : हरा

लकी नंबर : 4

वृषभ - PAGE OF SWORDS

आपका चंचलता की वजह से किसी भी एक निर्णय पर टिके रहना मुश्किल होगा। काम का दबाव न होने के बाद भी तकलीफ बढ़ सकती है। अभी के समय में बातें धीमी गति से ही आगे बढ़ेंगी। परिस्थिति के साथ समझौता करने की कोशिश करें।

करियर : काम से संबंधित नई बातों को सीखना आपके लिए आवश्यक होगा।

लव : पार्टनर के द्वारा लिए गए निर्णय को स्वीकार करना कठिन लगेगा।

हेल्थ : पेट से संबंधित दिक्कत होने से सेहत खराब हो सकती है।

लकी कलर : पीला

लकी नंबर : 1

मिथुन - THE HERMIT

करीबी व्यक्ति की बातों पर ध्यान देने से खुद की खूबियां और खामियां सामने आएंगी। जीवन में जो बात सबसे अधिक प्रिय है, उसे प्राप्त करने के लिए योजना बनाकर काम करें। अकेलापन दूर करना संभव हो सकता है। सही लोगों के साथ जुड़ना आवश्यक होगा।

करियर : काम की रुकावट दूर करने के लिए अनुभवी लोगों के साथ चर्चा करें।

लव : जिस व्यक्ति के लिए आकर्षण है, उनके साथ बातचीत बढ़ने लगेगी।

हेल्थ : गले की खराश तकलीफ दायक हो सकती है।

लकी कलर : लाल

लकी नंबर : 6

कर्क - TEN OF WANDS

हर एक काम में देरी होने से निराश लगेगा। व्यक्तिगत जीवन में बदलाव करने की इच्छा बढ़ सकती है, इस कारण आप प्रयत्न भी ज्यादा करेंगे। अभी के समय में इच्छा शक्ति प्रबल बनी रहेगी।

करियर : काम से संबंधित हुई पुरानी गलतियां दोहराई न जाए, इस बात का ध्यान रखना होगा।

लव : पार्टनर की बातों को समझ पाना कठिन लगेगा।

हेल्थ : हार्ट संबंधी समस्या नजरअंदाज न करें।

लकी कलर : सफेद

लकी नंबर : 3

सिंह - THREE OF SWORDS

अपनी समस्याओं का हल ढूंढने की कोशिश करें। किसी बाहरी व्यक्ति पर विश्वास रखना कठिन लगेगा, लेकिन परिवार का साथ मिलता रहेगा। जो काम गलत हुए हैं, उन्हें सुधारने के लिए परिवार के व्यक्ति का साथ मिलेगा।

करियर : करियर संबंधी चिंता दूर होगी।

लव : रिलेशनशिप में उत्पन्न हो रही दरार गलतफहमी के कारण है।

हेल्थ : सेहत से जुड़ी हर एक बात पर बारीकी से ध्यान दें।

लकी कलर : पर्पल

लकी नंबर : 2

कन्या - THE FOOL

जो चिंता आपको पिछले कुछ दिनों से सता रही है, वह पूरी तरह से दूर होती हुई नजर आ रही है। नए उत्साह के साथ काम करने की कोशिश करें। विचारों को सही दिशा मिलने से छोटी-मोटी बातों में रिस्क लेकर आगे बढ़ना आपके लिए संभव हो सकता है।

करियर : काम की वजह से प्रसन्नता रहेगी।

लव : रिलेशनशिप में स्पष्टता होने से पार्टनर के सामने अपनी बात रख पाना संभव होगा।

हेल्थ : पेट संबंधी इंफेक्शन नजरअंदाज न करें।

लकी कलर : गुलाबी

लकी नंबर : 5

तुला - EIGHT OF WANDS

अधिकतर काम सरलता से होते हुए नजर आ रहे हैं। जिन कामों में रुकावट आती है, उसमें बदलाव करने की कोशिश फिलहाल न करें। पैसों से संबंधित हुए फायदे पर ध्यान देकर अपने काम को और बेहतर तरीके से करने की कोशिश करें।

करियर : नौकरी करने वालों को लोगों के साथ मिलकर रहने की आवश्यकता होगी।

लव : पार्टनर की गलतियों को माफ करने की परिचय और नियम व्यापार कोशिश करें।

हेल्थ : पेट से संबंधित इंफेक्शन के कारण चिंता होती रहेगी।

लकी कलर : ग्रे

लकी नंबर : 8

वृश्चिक - THE HIEROPHANT

परिवार के लोगों पर अधिक ध्यान देने की कोशिश करें। परिवार के किसी व्यक्ति के गलत व्यवहार को सुधारने के लिए आपको सहयोग करना होगा। यदि आप सक्षम हैं तो मदद जरूर करें। नियम-कायदे से संबंधित हर एक बात को ठीक से समझकर ही सुलझाएं।

करियर : अपने कार्यक्षेत्र में पारंगत होने के लिए प्रयत्न करते रहें, साथ में प्रतिस्पर्धी किस प्रकार से काम करते हैं, इस बात पर भी ध्यान रखें।

लव : विवाह से संबंधित निर्णय लेते समय शुरुआत में डर रहेगा।

हेल्थ : बालों से संबंधित समस्या दूर करने का उपाय मिलेगा।

लकी कलर : गुलाबी

लकी नंबर : 7

धनु - EIGHT OF PENTACLES

पुराने परिचित व्यक्ति से चर्चा के कारण जीवन में बदलाव आ सकता है। नकारात्मक बातों से अधिक जिन बातों में आप बदलाव कर सकते हैं, उन पर ध्यान देने की कोशिश करें। निराशा को दूर करने के लिए जीवन शैली में बदलाव किया जा सकता है।

करियर : काम से संबंधित महत्वपूर्ण निर्णय लेने से पहले फायदे पर भी ध्यान देना होगा।

लव : युवा वर्ग को रिलेशनशिप के लिए सतर्कता दिखाने की आवश्यकता है।

हेल्थ : पैर पर सूजन हो सकती है।

लकी कलर : सफेद

लकी नंबर : 2

मकर - ACE OF CUPS

अपनी अपेक्षा के अनुसार लक्ष्य प्राप्त करने के लिए सतर्कता भी रखनी होगी। किसी भी डर को खुद पर हावी न होने दें। डर के प्रभाव में आकर लिए गए निर्णय आपके लिए गलत साबित हो सकते हैं। अपनी कार्यक्षमता पर पूरा भरोसा रखने की कोशिश करें।

करियर : मार्केटिंग से जुड़े लोगों को काम करने के तरीके बदलने की कोशिश करें।

लव : पार्टनर के कारण किसी बड़ी समस्या का हल प्राप्त हो सकता है।

हेल्थ : यूरिन से संबंधित तकलीफ नजरअंदाज न करें।

लकी कलर : नीला

लकी नंबर : 9

कुंभ - FIVE OF PENTACLES

परिवार के लोगों के साथ विवाद हो सकते हैं। फिर भी कठिन समय में आप एक-दूसरे का साथ देने की कोशिश करेंगे। पैसों से संबंधित चिंता दूर करने के लिए मिलकर प्रयत्न करें। भविष्य में बड़ी खरीदारी करने के लिए अभी से प्रयत्न करें।

करियर : व्यापार क्षेत्र से जुड़े हुए लोगों को पार्टनरशिप में काम करने का मौका प्राप्त हो सकता है।

लव : पार्टनर के स्वभाव का गलत फायदा उठाने की कोशिश न करें।

हेल्थ : त्वचा संबंधित विकार हो सकते हैं।

लकी कलर : लाल

लकी नंबर : 4

मीन - NINE OF PENTACLES

आपके अनुभव से अन्य लोगों की समस्याओं का हल ढूंढना आपके लिए संभव हो सकता है। लोगों के साथ बढ़ते हुए परिचय की वजह से अकेलापन दूर होगा। अन्य लोगों को मदद करते समय नए लोगों के साथ जुड़ने की वजह से आपकी सोच में भी बदलाव नजर आएगा।

करियर : काम की क्वालिटी पर ध्यान दें।

लव : रिलेशनशिप से जुड़ी जिन बातों को आप नजरअंदाज कर रहे हैं, वही नई समस्या उत्पन्न कर सकती हैं, इस बात का ध्यान रहें।

MMS लीक होने के बाद अंजलि अरोड़ा का एक और वीडियो हुआ वायरल, वीडियो देख लोग हुए पानी-पानी

वीडियो में एक्ट्रेस सलवार सूट में नजर आ रही है। उनके वीडियो में एक यूजर्स ने लिखा है कि इसे देखकर अब वो वीडियो का सीन याद आ रहा है। एक अन्य ने लिखा- इसको क्यों सिर पे चढ़ा रहे हो। ये कौन सी हीरोइन है। एक ने ताना मारते हुए लिखा- एमएमएस वायरल हुआ फिर भी पब्लिक में।

बता दें कि अंजली आरोरा सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती है। वो आए दिन अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर फोटोज वीडियो शेयर करते रहती है। कई बार उन्हें ट्रोल का शिकार भी होना पड़ता है।

Anjali Arora Viral MMS: अंजली अरोड़ा का MMS सोशल मीडिया पर वायरल, वीडियो देख लोग हुए पानी-पानी

Anjali Arora reaction On MMS : आए दिन सोशल मीडिया पर कुछ न कुछ वायरल होता रहता है। इसी के चलते हाल ही में कच्चा बादाम फेमस अंजलि अरोड़ा (Anjali Arora) का एक एमएमएस लीक होने की खबर सोशल मीडिया पर हवा की तरह फैली हुई थी।

वहीं, इसके बाद ही अंजलि अरोड़ा ने अपनी चुप्पी तोड़ लोगों को जवाब दिया था, उन्होंने कहा कि यह MMS मेरा नहीं था, वह इसे देख काफी दुखी थी। वह रो रही थी कि इस सब का उनके घर-परिवार पर भी बहुत बुरा प्रभाव पड़ा था।

इसी के बीच अंजलि अरोड़ा ने एक बार फिर इसे लेकर कहा है कि अब उन्हें इस बात से कोई फ्रक नहीं पड़ता और जो लोग उनकी बराबरी नहीं कर पा रहे हैं, वे लोग उन्हें बदनाम करने का षड्यंत्र रच रहे हैं।

सोए व्यक्ति को क्यों नहीं लांघना चाहिए? महाभारत से जुड़ा है रहस्य

PunjabKesari

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
हमारे हिंदू धर्म में कई तरह की मान्यताएं प्रचलित हैं, जिनमें न सिर्फ देवी-देवताओं का जिक्र मिलता है बल्कि इसमें कई तरह के शुभ-अशुभ संकेतों के बारे में भी बताया गया है। आप सही समझ रहे हैं आज हम ऐसे ही कुछ संकेतों के बारे में आपको बताने जा रहे हैं। दरअसल हम आपको बताने जा रहे हैं सोते व्यक्ति के ऊपर से लांघने से जुड़ी मान्यता के बारे में-

आपने अक्सर बड़े बुजुर्गों से कहते हुए सुना होगा कि कभी भी सोए हुए व्यक्ति के ऊपर से नहीं लांघना चाहिए। लेकिन क्या आप जानते हैं ऐसा क्यों? अगर नहीं तो आज हम आपको बताएंगे कि आखिर क्यों किसी सोए हुए व्यक्ति के ऊपर से नहीं लांघना चाहिए और साथ ये ही ये भी बताएंगे कि सोए व्यक्ति को अगर आप लांघ लेते हैं तो इससे क्या होता है।

PunjabKesari

PunjabKesari

महाभारत में वर्णित एक प्रसंग के अनुसार, एक बार भीम युद्ध के लिए जा रहे थे, तो उस समय हनुमान जी ने भीम का रस्ता रोकने के लिए एक वृद्ध वानर के रूप में मार्ग पर लेट गए। जिसकी वजह से उनकी पूंछ ने पूरे मार्ग को बाधित किया हुआ था। वहीं जब भीम उस मार्ग से गुजरे तो उन्होंने पूंछ को लांघा नहीं, बल्कि भीम ने हनुमान जी को पूंछ हटाने के लिए कहा। लेकिन, हनुमान जी ने दुर्बलता वश पूंछ हटाने से इनकार कर दिया और कहा कि पूंछ लांघकर चले जाए। लेकिन भीम ने ऐसा नहीं किया और कहा कि इस संसार के सभी प्राणियों में ईश्वर का अंश विद्यमान होता है, ऐसे में किसी प्राणी को लांघना यानि कि परमात्मा का अनादर करने जैसा है।

1100 रुपए मूल्य की जन्म कुंडली मुफ्त में पाएं । अपनी जन्म तिथि अपने नाम , जन्म के समय और जन्म के स्थान के साथ हमें 96189-89025 पर वाट्स ऐप करें

जिस वजह से भीम ने हनुमान जी की पूंछ को लांघा नहीं बल्कि वह स्वयं ही पूंछ हटाने लगे। लेकिन उस समय कुछ ऐसा हुआ कि भीम अपनी पूरी शक्ति लगाने के बाद भी हनुमान जी की पूंछ को हिला भी नहीं पाए। तो फिर उन्हें समझ आ गया कि ये कोई साधारण वानर नहीं है। इसके बाद हनुमान जी ने भीम को अपना परिचय दिया और विशाल रूप भी दिखाया। साथ ही हनुमानजी ने युद्ध में विजय पाने का आर्शीवाद भी भीम को दिया। कहा जाता है कि भीम ने भगवान हनुमान को न लांघने के पीछे जो वजह बताई थी, उसी को ध्यान में रखते हुए हमारे पूर्वजों ने भी नियम बनाया, तांकि कोई व्यक्ति किसी सोते या लेटे हुए व्यक्ति को लांघकर ईश्वर का अपमान न करें।

अब जानते हैं सोने की सही दिशा क्या है-
वास्तुब के अनुसार दक्षिण दिशा में सिर रखकर सोना सबसे श्रेष्ठ माना जाता है। कहा जाता है कि इस दिशा में सिर रखकर सोने से आपकी सेहत अच्छी रहती है और आप सभी प्रकार की मानसिक समस्याओं से दूर रहते हैं। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि भूलकर दक्षिण में पैर करके न सोएं। क्योंकि इसे धार्मिक दृष्टि से अशुभ माना जाता है और वैज्ञानिक दृष्टि से भी यह हानिकारक है। ऐसा माना जाता है कि दक्षिण दिशा में पैर करने से चुंबकीय धारा पैर में प्रवेश करती है और सिर से होते हुए निकलती है। जिससे आपके दिमाग में तनाव बढ़ता है। वहीं दक्षिण के अलावा पूर्व दिशा में सिर करके सोना शुभ माना जाता है। मान्यता है कि इस दिशा में सिर करके सोने से देवी-देवताओं का आशीर्वाद प्राप्त होता है।

रेटिंग: 4.89
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 713
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *