विदेशी मुद्रा सफलता की कहानियां

Stock Market में ट्रेडिंग कितने प्रकार से होती है?

Stock Market में ट्रेडिंग कितने प्रकार से होती है?
हालाँकि इसमें भी कई ब्रोकर्स होते हैं जो की स्टॉक मार्किट का ही सदस्य होते हैं। ये आपको सुझाव देंगे की किस में पैसा लगाए। कंपनी जब शेयर जारी करती है उस वक्त किसी व्यक्ति या समूह को कितने शेयर देना हैं यह उसका विवेकाधीन अधिकार है। बाजार से शेयर बाजार खरीदने/बेचने के लिए कई शेयर ब्रोकर्स होते हैं जो उनके तय पारिश्रमिक (लगभग 2 फीसदी) लेकर अपने ग्राहकों को यह सेवा देते हैं।

शेयर बाजार की जानकारी | Share Market in Hindi | Stock Market ki Jankari

Xplained: शेयर बाजार में आज मूहुर्त ट्रेडिंग, जानिए पिछली दिवाली से अब तक बाजार ने दिया कितना रिटर्न

By: abp news | Updated at : 04 Nov 2021 08:36 AM (IST)

Muhurat Trading Session: दिवाली ( Diwali 2021) का दिन भारतीय शेयर बाजार ( Indian Share Market) और उसके निवेशकों ( Investors) के लिये बेहद खास होता है. क्योंकि दिवाली पर लक्ष्मी की पूजा होती है, तो बाजार के हर निवेशक की यही ख्वाईश होती है कि उसने बाजार में जिन शेयरों में निवेश किया है, उसपर ना केवल उसे शानदार रिटर्न मिले बल्कि उसका निवेश दिन दोगुनी रात चौगुनी की रफ्तार से बढ़ती रहे. जिस शेयर में वो निवेश कर रहा है वो मल्टीबैगर ( MultiBagger ) साबित हो.

दीपावली के दिन वैसे तो शेयर बाजार में दिन में तो कारोबार नहीं होता. बाजार बंद होता है. लेकिन शाम को बाजार में लक्ष्मी पूजा के संपन्न होने के बाद एक घंटे के लिये मूहुर्त ट्रेडिंग (Muhurat Trading ) का आयोजन होता है. गुरुवार को दिवाली के शुभ अवसर पर शेयर बाजार तो बंद रहेंगे लेकिन शाम में एक घंटे के लिए मूहुर्त ट्रेडिंग का सत्र होगा. दिवाली से Samvat 2078 की शुरुआत हो रही है और नए साल की शुरुआत पर कोई भी नया काम करना या नया निवेश करना बेहद शुभ माना जाता है. हिन्‍दू मान्‍यता के मुताबिक इस दिन शेयर बाजार में मूहुर्त ट्रेडिंग पर निवेश बेहद शुभ माना जाता है. इसलिए हर साल दिवाली पर एक घंटे के लिये शेयर बाजार खुलता है, जिससे निवेशक दिवाली पर शेयरों की खरीद फरोख्त कर सकें.

इंट्राडे ट्रेडिंग क्या होता है ?

इंट्राडे ट्रेडिंग हम एक दिन में ही कर सकते है। इंट्राडे ट्रेडिंग में हमे एक दिन में ही लोस्स और प्रॉफिट हो जाता है। भारत में शेयर मार्केट मंडे से लेकर फ्राइडे तक सुबह 9 :15 से लेकर शाम के 3 :30 खुलता है। अगर आप इंट्राडे ट्रेडिंग करना चाहते है तो आप को इसी समय में शेयर को खरीदना और बेचना होगा। ज्यादातर निवेशक दो कारणों की बजह से इंट्राडे ट्रेडिंग करते है। पहला मार्जिन और दूसरा है न्यूज़।

इंट्राडे में ब्रोकर अपने निवेशको को मार्जिन देते है। मार्जिन का मतलब है ब्रोकर अपने निवेशकों को निवेश करने के लिए पैसे उधार देते है। अगर आप के पास कम पैसे है और आप ज्यादा शेयर खरीदना चाहते है तो आप का ब्रोकर आप को मार्जिन देता है जिस से आप कोई भी कपनी के शेयर खरीद सकते है और जब आप के पास ज्यादा पैसे होंगे तो आप ज्यादा Stock Market में ट्रेडिंग कितने प्रकार से होती है? शेयर खरीद पाएंगे और अधिक लाभ कमा सकते है।

न्यूज का बहुत प्रभाव

जब भी कोई कंपनी की न्यूज आती है तो शेयर मार्किट में उस न्यूज का बहुत प्रभाव होता है शेयरों के प्राइस ऊपर निचे होने लग जाते है। जिस का निवेश फायदा उठा कर एक दिन में ही लाभ कमा लेते है। इन्ही दो करने की वजह से निवेशक इंट्राडे ट्रेडिंग करते है।

  • लॉन्ग इंट्राडे ट्रेडिंग
  • शोर्ट इंट्राडे ट्रेडिंग

लॉन्ग इंट्राडे ट्रेडिंग

लॉन्ग इंट्राडे ट्रेडिंग हम को जब लगता है कि कोई कंपनी के शेयर का प्राइस बढ़ने वाला है तो हम अपने ब्रोकर से मार्जिन ले कर अपने ब्रोकर की प्लेटफार्म पर जा कर उस कंपनी के शेयर को खरीद कर इंट्राडे सिलेक्ट करेंगे जिस से हमारे ऑडर मार्जिन अप्लाई हो जायेगा। फिर हम उस में क्वांटिटी भर देंगे। इस से हमारा ऑडर अप्लाई हो जायेगा। आप इंट्राडे ट्रेडिंग कर रहे है तो आप को उसी दिन ही शेयर को बेचना होगा। चाहे उस में Stock Market में ट्रेडिंग कितने प्रकार से होती है? आप का प्रॉफिट हो जा फिर लोस्स।

शोर्ट इंट्राडे ट्रेडिंग में जब हम को लगता है कि किसी कंपनी के शेयर का प्राइस गिरने वाला है तो इस में हमारा ब्रोकर में Stock Market में ट्रेडिंग कितने प्रकार से होती है? कुछ शेयर उधार पर देता है जिसे हम अपने ब्रोकर के प्लेटफर में जा कर उस कंपनी के शेयर को बेच देते है उस समय उस शेयर का प्राइस 100 रुपए है तो आप उसे बेच देते है उस शेयर का प्राइस 10 रुपए ज्यादा गिर जाये तो आप उस कंपनी के शेयर खरीद कर अपने ब्रोकर को वापिस कर देंगे जो आप ने उस से उधार लिए थे। इस में आप ने ज्यादा प्राइस पर शेयर को बेच कर उसे कम प्राइस में खरीद लिए इस से आप को हर एक शेयर पर 10 रुपए का प्रॉफिट हुआ।

इंट्राडे ट्रेडिंग पर हमे कोन से नुकसान होते है

इंट्राडे ट्रेडिंग में हमे चाहे प्रॉफिट हो चाहे हमारा नुकसान हो हमारा ब्रोकर हमारे हर एक ऑडर पर चार्ज लेता है। उस के पैसे हमारे ट्रेडिंग अकाउंट में से कट जाते है। इंट्राडे में हम उस दिन ही शेयर खरीदते है और उस दिन ही बेचते है जिस के कारण हमारा ब्रोकर हमारे हर एक ऑडर पर चार्ज लेता है।

इंट्राडे ट्रेडिंग में हम ने जिस दिन शेयर खरीदते होते है हमे उसे उसी दिन ही बेचना होता है। इस लिए हमारे पास शेयर खरीदने या बेचने के लिए थोड़ा समय ही होता है। अगर इस में हमारा लोस्स हो रहा हो फिर भी हमे शेयर को उसी दिन ही खरीदना या बेचना होता है।

इंट्राडे ट्रेडिंग में हमे एक दिन में ही शेयर खरीदने और बेचने होते है जिस के कारण इस में बहुत ज्यादा रिस्क होता है। इंट्राडे ट्रेडिंग से हमे ज्यादा फायदा और ज्यादा नुकसान दोनों ही हो सकते है। इस लिए अगर आप इंट्राडे ट्रेडिंग करना चाहते है तो आप को इंट्राडे ट्रेडिंग को अच्छी तरह से समझना होगा और इंट्राडे ट्रेडिंग में होने के बारे में भी पता होना चाहिए। तभी आप ट्रेडिंग में सफल हो सकते है।

जिस ट्रेडिंग कंपनी के जरिए शेयर बाजार में पैसा लगा रहे, वही बंद हो गई तो क्‍या होगा? जानिए आपका पैसा डूबेगा या बचा रहेगा

जिस ट्रेडिंग कंपनी के जरिए शेयर बाजार में पैसा लगा रहे, वही बंद हो गई तो क्‍या होगा? जानिए आपका पैसा डूबेगा या बचा रहेगा

TV9 Bharatvarsh | Edited By: आशुतोष वर्मा

Updated on: Jul 22, 2021 | 10:32 AM

अब आम आदमी भी शेयर बाजार में निवेश कर ज्‍यादा रिटर्न पाने में रुचि दिखा रहा है. यही कारण है कि बीते एक साल में रिकॉर्ड संख्‍या में डीमैट अकाउंट खोले गए हैं. पिछले महीने तक के आंकड़ों के अनुसार देशभर में करीब 6.9 करोड़ डीमैट अकांउट्स हैं. हालांकि, दूसरे देशों के मुकाबले आबादी के लिहाज से यह अनुपात अभी भी बहुत कम है. भारतीय शेयर बाजार में सबसे ज्‍यादा पैसा महाराष्‍ट्र, गुजरात और उत्‍तर प्रदेश के लोग लगाते हैं. लक्षद्वीप, अंडमान एवं निकोबार से लेकर मिज़ोरम तक के लोग शेयर बाजार से अच्‍छी कमाई कर रहे हैं.

ब्रोकरेज कंपनी बंद होने पर आपके निवेश का क्‍या होगा?

आप यह जानकार राहत की सांस ले सकते हैं कि स्‍टॉक ब्रोकिंग कंपनी के डिफॉल्‍ट करने या बंद होने के बाद भी आपकी पूंजी या फंड पूरी तरह से सुरक्षित रहेगा. ऐसा नहीं होगा कि स्‍टॉक ब्रोकर आपकी पूंजी लेकर भाग जाए. उदाहरण के तौर पर देखें तो जब हर्षद मेहता स्‍कैम सामने आया था, तब उनकी ब्रोकिंग कंपनी ग्रो मोर रिसर्च एंड एसेट मैनेजमेंट को सेबी ने बैन कर दिया था. लेकिन इस कंपनी के जरिए शेयर बाजार में पैसा लगाने वाले लोगों को कोई नुकसान नहीं हुआ.

आपको सबसे पहले यह समझने की जरूरत कि ये स्‍टॉक ब्रोकिंग कंपनियां महज एक बिचौलिए के तौर पर काम करती हैं. आपके फंड पर इनकी पहुंच सीधे तौर पर नहीं होती है ताकि वे आपकी पूंजी पर अपना हम जमा सकें. लेकिन इनके पास पड़ी अपनी फंड या पूंजी को इस्‍तेमाल करने के लिए आप इन्‍हें निर्देश दे सकते हैं.

स्‍टॉक्‍स और शेयरों का क्‍या होगा?

आपका फंड डीमैट अकाउंट में जमा होता है. ये डीमैट अकाउंट डिपॉजिटरीज के पास खुलात है. सेबी ने दो डिपॉजिटरीज – नेशनल सिक्‍योरिटीज डिपॉजिटरीज लिमिटेड (NSDL) और सेंट्रल डिपॉजिटरी सर्विसेज (इंडिया) लिमिटेड (CDSL) को मंजूरी दी है. भारत सरकार के वित्‍त मंत्रालय के प्रति सेबी की जवाबदेही होती है.

किसी भी समय पर एक निवेशक का स्‍टॉक या शेयर ब्रोकरेज फर्म्‍स के पास नहीं होता है. वे बस एक प्‍लेटफॉर्म के तौर पर काम करते हैं. इनका काम बस आपके निर्देश के हिसाब से आपकी जगह ट्रेड करना है. बदले में ये आपसे फीस वसूलते हैं.

इसी प्रकार आपका म्‍यूचुअल फंड इन्‍वेस्‍टमेंट एसेट मैनेजमेंट कंपनी (AMC) के पास होता है. ऐसे में अगर ब्रोकरेज फर्म बंद भी हो जाता है तो आपका म्‍यूचुअल फंड सुरक्षित रहेगा.

शेयर मार्केट में शेयर कैसे ख़रीदे – Share Market Share Kaise Kharide?

Share Market / शेयर मार्किट में शेयर आप डायरेक्ट अपने बैंक अकाउंट के जरिये नहीं खरीद सकते। इसके लिए आपको एक Demate Trading account खुलवाना होगा। इसके भी दो तरीके हैं, पहला किसी Broker यानि की दलाल के पास जाकर एक Demat account खोल सकते हैं। दूसरा आप बैंक में खुलवा सकते हैं। इसके लिए आपके पास किसी बैंक एक सेविंग अकाउंट रहना चाहिए, जोकि आपके Demate account से लिंक रहेगा। Demat account में हमारे Share के पैसे रखे जाते हैं जिस तरह की हम किसी बैंक के खाते में अपना पैसा रखते हैं ठीक उसी तरह। अगर आप शेयर मार्किट में निवेश कर रहे हैं तो आपका Demat account होना बहुत ही जरुरी है। क्यूंकि कंपनी को मुनाफा होने के बाद आपको जितने पैसे मिलेंगे वो सारे पैसे Stock Market में ट्रेडिंग कितने प्रकार से होती है? आपके Demat account में जायेंगे। यहाँ से आप अपने बैंक अकाउंट में पैसा ट्रांसफर कर सकते हैं।

रेटिंग: 4.47
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 703
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *