क्रिप्टो करेंसी

जमा करने की विधि

जमा करने की विधि

जमा करने की विधि

आयकर से संबंधित सामान्य प्रश्न

1800 180 1961(or)

08:00 बजे से - 22:00 बजे तक (सोमवार से शनिवार)

ई-फ़ाईलिंग और केंद्रीकृत प्रसंस्करण केंद्र

आयकर विवरणी या फॉर्म और अन्य मूल्य वर्धित सेवाओं की ई-फ़ाईलिंग और सूचना, सुधार, प्रतिदाय और अन्य आयकर प्रसंस्करण से संबंधित प्रश्न

1800 103 0025 (or)

08:00 बजे से - 20:00 बजे से (सोमवार से शुक्रवार

09:00 बजे से - 18:00 बजे से (शनिवार को)

कर सूचना नेटवर्क - एन.एस.डी.एल.

एन.एस.डी.एल. के माध्यम से जारी करने/अपडेट करने के लिए पैन और टैन आवेदन से संबंधित प्रश्न

07:00 बजे से - 23:00 बजे तक (सभी दिन)

  1. Home
  2. प्रपत्र 10-ID - उपयोगकर्ता पुस्तिका

प्रपत्र 10-ID - उपयोगकर्ता पुस्तिका

1. अवलोकन

नई विनिर्माण घरेलू कंपनियों के पास कुछ शर्तों के अधीन, आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 115BAA और 115BAB के तहत क्रमशः 15% की रियायती कर दर (प्लस लागू अधिभार और उपकर) पर कर का भुगतान करने का विकल्प है। कंपनियां केवल निर्धारण वर्ष 2020-21 से रियायती कर दरों का विकल्प चुन सकती हैं।

रियायती कर दरों को चुनने के लिए, धारा 115 BAB के अनुसार कर का भुगतान करने के लिए, 1 अप्रैल, 2020 या उसके बाद शुरू होने वाले पहले निर्धारण वर्ष पर आय की विवरणी प्रस्तुत करने के लिए, धारा 139 की उप-धारा (1) के तहत निर्दिष्ट नियत तिथि पर फ़ॉर्म 10-ID फ़ाइल करना आवश्यक है। एक बार प्रयुक्त किया गया ऐसा विकल्प अनुवर्ती निर्धारण वर्षों पर लागू होगा और इसे वापस नहीं लिया जा सकता है।

फ़ॉर्म 10-ID केवल ऑनलाइन ढंग के माध्यम से जमा किया जा सकता है।

2. इस सेवा का लाभ उठाने के लिए पूर्व-आवश्यक शर्तें

    जमा करने की विधि
  • मान्य उपयोगकर्ता आई.डी. और पासवर्ड के साथ ई-फ़ाईलिंग पोर्टल पर पंजीकृत उपयोगकर्ता
  • मान्य और सक्रिय डिजिटल हस्ताक्षर प्रमाण पत्र (ई-सत्यापन के लिए)
  • उपयोगकर्ता एक नई विनिर्माण घरेलू कम्पनी है
  • निगमन की तिथि 1 अक्टूबर, 2019 को या उसके बाद और मार्च, 2023 के 31 वें दिन या उससे पहले है।
  • पिछले निर्धारण वर्षों में आय की कोई विवरणी फ़ाइल नहीं की गई है
  • अधिनियम की धारा 139(1) के तहत विवरणी प्रस्तुत करने की समय-सीमा समाप्त नहीं हुई है

3. फ़ॉर्म के बारे में

3.1 प्रयोजन

आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 115BAB के अनुसार, नई विनिर्माण घरेलू कम्पनी कुछ निर्धारित शर्तों को पूरा करने के अधीन, 15% की कम कर दर (अधिभार और उपकर) पर कर का भुगतान करने का विकल्प जमा करने की विधि चुन सकती हैं।

यदि कम्पनी किसी भी पिछले वर्ष में निर्धारित शर्तों को पूरा करने में विफल रहती है, तो उस पूर्व वर्ष और अनुवर्ती वर्षों के संबंध में विकल्प अमान्य हो जाएगा और अधिनियम के अन्य प्रावधान कम्पनी के लिए इस तरह लागू होंगे जैसे की अनुवर्ती वर्षों के लिए विकल्प को प्रयुक्त किया ही नहीं गया था।

3.2 इसका उपयोग कौन कर सकता है?

सभी उपयोगकर्ता, जो नई विनिर्माण घरेलू कम्पनी के रूप में पंजीकृत हैं, जिन्हें 1 अक्टूबर, 2019 को या उसके बाद निगमित किया गया है और जिसने 31 मार्च, 2023 को या उससे पहले किसी सामान या वस्तु का निर्माण या उत्पादन शुरू किया है।

4. फ़ॉर्म एक नजर में

फ़ॉर्म 10-ID के तीन अनुभाग हैं:

  1. निर्धारण अधिकारियों का विवरण
  2. मूल जानकारी
  3. सत्यापन

फ़ॉर्म 10-ID

4.1 निर्धारण अधिकारी का विवरण

पहले अनुभाग में आपके निर्धारण अधिकारी का विवरण होता है। आपको पेज पर प्रदर्शित निर्धारण अधिकारी के विवरण की पुष्टि करनी होगी।

निर्धारण अधिकारी का विवरण

4.2 मूल जानकारी

अगले अनुभाग में घरेलू कंपनी का मूल विवरण (वैयक्तिक जानकारी और कारोबार क्रियाकलाप की प्रकृति सहित) शामिल हैं।आपको विनिर्माण प्रक्रिया प्रारम्भ होने की तिथि और आपके लिए लागू कारोबार की प्रकृति के विवरण का चयन करना होगा।

मूल जानकारी

4.3 सत्यापन

अंतिम खंड में एक स्व-घोषणा फ़ॉर्म होता है जिसमें आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 115BAB के अनुसार मानदंड होते हैं। सत्यापन पृष्ठ पर प्रदर्शित नियमों और शर्तों को स्वीकार करें।

सत्यापन


5. कैसे एक्सेस और जमा करें

आप निम्नलिखित विधि से फ़ॉर्म 10-ID भर सकते हैं और जमा कर सकते हैं:

  • ऑनलाइन विधि - ई-फ़ाईलिंग पोर्टल के माध्यम से

ऑनलाइन ढंग के माध्यम से फ़ॉर्म 10-ID भरने और जमा करने के लिए नीचे दिए गए चरणों का अनुसरण करें।

5.1 फ़ॉर्म 10-ID जमा करना (ऑनलाइन विधि से)

चरण 1: अपने उपयोगकर्ता आई.डी. और पासवर्ड का उपयोग करके ई-फ़ाईलिंग पोर्टल पर लॉगइन करें।

चरण 1

चरण 2: अपने डैशबोर्ड पर, ई-फ़ाइल > आयकर फ़ॉर्म जमा करने की विधि > आयकर फ़ॉर्म फ़ाइल करें पर क्लिक करें।

चरण 2

चरण 3: आयकर फ़ॉर्म फ़ाइल करें पेज पर फ़ॉर्म 10-ID चुनें। वैकल्पिक रूप से, फ़ॉर्म फ़ाइल करने के लिए खोज बॉक्स में फ़ॉर्म 10-ID दर्ज करें।

चरण 3

चरण 4: फ़ॉर्म 10-ID पेज पर, निर्धारण वर्ष (ए.वाई.) चुनें और जारी रखें पर क्लिक करें।

चरण 4

चरण 5: निर्देश पृष्ठ पर, चलिए शुरू करते हैं पर क्लिक करें।

चरण 5

चरण 6: चलिए शुरू करते हैं पर क्लिक करने पर, फ़ॉर्म 10-ID प्रदर्शित होता है। सभी आवश्यक विवरण भरें और पूर्वावलोकन पर क्लिक करें।

चरण 6

चरण 7: पूर्वावलोकन पेज पर, विवरण सत्यापित करें और ई-सत्यापन करने के लिए आगे बढ़ें पर क्लिक करें।

चरण 7

चरण 8: जमा करने के लिए हाँ पर क्लिक करें।

चरण 8

चरण 9: हाँ पर क्लिक करने पर, आपको ई-सत्यापन पेज पर ले जाया जाएगा जहां आप डिजिटल हस्ताक्षर प्रमाण-पत्र का उपयोग करके सत्यापित कर सकते हैं।

टिप्पणी: अधिक जानने के लिए ई-सत्यापन कैसे करें उपयोगकर्ता पुस्तिका को देखें।

सफल ई-सत्यापन के बाद, एक संव्यवहार आई.डी. और पावती रसीद संख्या के साथ एक सफलता संदेश प्रदर्शित होता है। कृपया भविष्य के संदर्भ के लिए संव्यवहार आई.डी. और पावती संदर्भ संख्या को लिखकर रखें। आपको ई-फ़ाईलिंग पोर्टल पर पंजीकृत ईमेल आई.डी. और मोबाइल नंबर पर एक पुष्टिकरण संदेश भी प्राप्त होगा।

निवेश के लिए बेस्ट है Post Office की ये स्कीम, 1 लाख रुपए जमा कर पाएं 5 साल में इतना रिटर्न

Post Office Term Deposit Scheme: पोस्‍ट ऑफिस में 1 साल से 5 साल तक की TD खुलवा सकते हैं. इसमें आपका पैसा हमेशा सुरक्षित रहता है और वापस मिलने की गारंटी होती है.

Post Office Term Deposit Scheme: अगर आप भी किसी स्कीम में निवेश करने की प्लानिंग कर रहे हैं (Investment Planning) तो आपके लिए पोस्ट ऑफिस की फिक्स्ड डिपॉजिट/टर्म डिपॉजिट स्कीम बेस्ट है. इस स्कीम में आपका पैसा हमेशा सुरक्षित रहेगा, जो कि एकदम सरल ऑप्शन है. बता दें FD/TD की सुविधा केवल बैंक में ही नहीं है, इसका आनंद आप डाकघर में उठा सकते हैं. फर्क इतना है कि पोस्ट ऑफिस (Post Office) में लगाया हुआ आपका पैसा हमेशा सुरक्षित रहता है और वापसी की गारंटी भी देता है. आइए जानते हैं इस स्कीम के बारे में, जिसके निवेश पर अच्छा खासा रिटर्न मिलता है.

Post Office में आप 1 से 5 साल तक की Term Deposit खुलवा सकते हैं. ये एक स्मॉल सेविंग्स स्कीम (Small Savings Scheme) है. बता दें बैंक ने जनवरी से लेकर मार्च 2022 तिमाही तक अपनी ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है. इसका मतलब ये कि जो अक्टूबर-दिसबर 2021 तिमाही में ब्याज मिलता था, वो ही अब मिलता रहेगा.

ज़ी बिज़नेस LIVE TV यहां देखें

निवेश 1 लाख रुपए, मिलेंगे 139407 रुपये

पोस्ट ऑफिस की टर्म डिपॉजिट में 5 साल के लिए 6.7 फीसदी सालाना मिलता है. इसका मतलब ये कि अगर कोई व्यक्ति 5 साल की मैच्योरिटी पीरियड वाले Term Deposit में 1 लाख रुपए जमा कर अकाउंट खुलवाता है, तो उसे 5 साल बाद TD के Interest Rate के हिसाब से 139407 रुपये रिटर्न में मिलेंगे. वहीं एक साल, 2 साल और 3 साल के टर्म डिपॉजिट पर ब्याज दर 5.5 फीसदी सालाना मिलता है.

​कौन खुलवा सकता है अकाउंट

पोस्ट ऑफिस की इस स्कीम में कोई भी भारतीय सिंगल या जॉइंट अकाउंट ओपन करवा सकता है. वहीं जिनकी उम्र 10 साल से ज्यादा है या फिर वो दिमागी रूप से कमजोर है, वो भी इसमें अकाउंट खुलवा सकता है. अकाउंट ओपन करने के लिए आप इसमें 1000 रुपए से शुरू करते कितनी भी अमाउंट लगा सकते हैं. इसके अलावा 5 साल की पोस्‍ट ऑफिस TD में इन्वेस्ट को आयकर कानून के सेक्शन 80C के तहत टैक्स छूट मिलती है.

Premature Closing के नियम

इस स्कीम को आप 6 महीने पूरे हो जाने के बाद क्लोज कर सकते हैं. वहीं अगर आप 6 महीने बाद से लेकर अकाउंट के 12 माह पूरे होने तक अगर TD को बंद कराते हैं तो पोस्‍ट ऑफिस Savings Scheme की ब्याज दर लागू होगी, न कि टर्म डिपॉजिट की.

पेशाब का नमूना जमा करने की विधि समझाइए​

harsheinstein404

Urine is collected in a sample collecting urinary bags.

New questions in Science

THIS QUESTIONS ✨ THIS IS FOR G. .. . .Three plane mirrors are arranged as shown in figure. find the total numbers of images of object o, which is plac … ed at the centroid of given arrangement.?​

A 'stingy' individual is someone who has money, but is very reluctant to part with it. He is a miser; he doesn't like to spend money on himself or on … others. He is reluctant to spend money on things are essential as well. Ebenezer Scrooge in Charles Dickens' classic 'A Christmas Carol' was a stingy pers wow @XxitzkaminiaatmaxX hai @XxutkaminaxX mil gya .. bas ab @mekamina karke miljaye koi

KYC क्या है और इसे कैसे करें?

आजकल KYC बहुत प्रचलित शब्द हो गया है। आप बैंक जाइए वहां सुनाई देगा, आप लोन के लिए आवेदन करिये आपको KYC शब्द सुनाई देगा। आप किसी भी टेलिकॉम कंपनी का पोस्टपेड कनेक्शन लीजिये वहां पर आपको KYC शब्द सुनाई देगा। लेकिन क्या जानते हैं कि KYC क्या है?

KYC का फुलफॉर्म Know Your Customer होता है। मतलब अपने ग्राहक को जानने का प्रपत्र। केवाईसी एक ग्राहक के बारें में जानकारी देना वाला प्रपत्र होता है। इस प्रपत्र पर ग्राहक अपने बारें में सभी जरूरी जानकारियां लिखकर देता है।

इसे आप बैंकिंग के क्षेत्र में देखें तो हर 6 महीने पर या 1 साल पर बैंक अपने ग्राहकों से केवाईसी फॉर्म भरने के लिए कहता है। इस केवाईसी फॉर्म में अपना नाम, बैंक अकाउंट का नंबर, पैन कार्ड नंबर, आधार कार्ड नंबर, मोबाइल नंबर और पूरा पता भरना होता है। इस तरह बैंक को ग्राहक की सभी जानकारियां प्राप्त हो जाती है।

ऐसा नहीं है कि बैंक में अकाउंट खुलवाते समय में ये सब जानकारियां नहीं देना होता है। बिल्कुल देना होता है। लेकिन बैंक के तरफ से 6 महीने बाद या 1 साल बाद इसलिए केवाईसी फॉर्म भरवाया जाता है कि अगर इस बीच ग्राहक के व्यक्तिगत सूचना में से कोई सूचना बदली गई होगी, तो केवाईसी फॉर्म के जरिये नई सूचना अपडेट हो जाएगी।

इस तरह बैंक को जरूरत पड़ने पर अपने ग्राहकों से संपर्क करने में किसी तरह की कोई कठिनाई का सामना नहीं करना पड़ेगा। केवाईसी ग्राहक और संबंधित संस्थान दोनों के लिए लाभकारी है। आइये केवाईसी के बारें में विस्तारपूर्वक समझते हैं।

कृपया OTP के साथ सत्यापित करें

Ziploan व्यवसायों के लिए लोकप्रिय लोनदाता है।

logo

बेहद कम कागजी दस्तावेज प्रक्रिया

बैलेंस शीट की जरूरत नहीं

logo

बिना कुछ गिरवी रखें

10 लाख सालाना टर्नओवर कारोबार के लिए

logo

सिर्फ 3 दिनों* के भीतर लोन मिलेगा

घर बैठे आपके बैंक अकाउंट में

logo

6 महीने बाद प्री-पेमेंट फ्री

आसान किश्तों में वापस करें

न्यूनतम कागजात

बैलेंस शीट की जरूरत नहीं है

प्री-पेमेंट चार्जेंस फ्री

6 EMI का भुगतान करने के बाद

सिर्फ 3 दिन * में बिजनेस लोन

रकम आपके बैंक खाते में

क्या लोन लेने के लिए भी केवाईसी जरूरी होता है?

लोन एक फाइनेंशियल प्रोडक्ट है। फाइनेंशियल प्रोडक्ट होने के नाते लोन की वापसी सुनिश्चित करना संबंधित बैंक शाखा और ग्राहक की जिम्मेदारी होती है। कई बार जिस बैंक में ग्राहक का खाता होता है, उस बैंक से भी उस ग्राहक को लोन लेने के लिए केवाईसी फॉर्म अनिवार्य तौर पर भरना होता है। क्योंकि बैंक को यह
जानकारी हो सके कि ग्राहक का पता क्या है? ग्राहक का आधार कार्ड नंबर क्या है? ग्राहक का पैन कार्ड नंबर क्या है? इन्हीं सब बेसिक जानकारियों के हिसाब से ही ग्राहक से दोबारा संपर्क किया जाता है।

अगर कोई व्यक्ति किसी नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी (एनबीएफसी) से बिजनेस लोन के लिए आवेदन करता है तो उसे भी अनिवार्य रुप से KYC फॉर्म भरकर जमा करना होता है। हालांकि एनबीएफसी कंपनी एक बार पहले ही इस तरह की जानकारियां बिजनेस लोन आवेदन पत्र के साथ ही प्राप्त कर लेती है लेकिन फिर भी केवाईसी फॉर्म ग्राहकों को भरना हो पड़ता है।

KYC फॉर्म में पहचान के लिए इनमें से कोई एक दस्तावेज अटैक करना होता है

  • पासपोर्ट ड्राइविंग लाइसेंस
  • मतदाता पहचान पत्र
  • पैन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • एनआरजीए कार्ड

KYC फॉर्म में पता के लिए इनमें से कोई एक दस्तावेज अटैक करना होता है

  • आधार कार्ड की फोटोकॉपी
  • टेलीफोन की बिल की फोटोकॉपी
  • बिजली बिल की फोटोकॉपी
  • गैस का रि-फिलिंग बिल की फोटोकॉपी
    पासपोर्ट की फोटोकॉपी
    राशन कार्ड की फोटोकॉपी
    नियोक्ता द्वारा जारी नियुक्ति पत्र का फोटोकॉपी

Quick Links

KYC क्यों है महत्वपूर्ण

केवाईसी ग्राहक और वित्तीय संस्थान दोनों के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। बैंकिंग संस्थान को जहां KYC के जरिये ग्राहक की सभी अपडेटेड जानकारियां प्राप्त हो जाती हैं। वहीं ग्राहक को इस बात की सुरक्षा मिल जाती है कि उसके अकाउंट में से कोई और व्यक्ति धन का हेरफेर नहीं कर सकता है। क्योंकि जब भी बैंकिंग होगी तो उसकी जानकारी ऑनलाइन/मैसेज के माध्यम से ग्राहक को तुरंत प्राप्त हो जाएगी। कुछ मामलों में बिना ग्राहक के मंजूरी के कोई ट्रांजेक्शन भी नहीं हो सकता है।

इस तरह हम देखते हैं कि के नाउ योर कस्टमर यानी अपने ग्राहक को जानिए सुविधा एक बेहतरीन सुविधा है। इस सुविधा का लाभ ग्राहक और बैंकिंग संस्थान को समान रुप में मिलता है। यह सुरक्षा के साथ – साथ जानकारी अपडेट करने का माध्यम भी है।
KYC कैसे होता है?

केवाईसी करना बहुत ही आसान है। सबसे पहले ऊपर बताए गये कागजी दस्तावेज इक्कठा करें। इसके बाद उस बैंक की ब्रांच में जाइए जिस ब्रांच में आपका बैंक अकाउंट है। वहां पर जाकर संबंधित डेस्क से केवाईसी फॉर्म लीजिये और उस फॉर्म को भरने के बाद और सभी जरूरी कागजात अटैच करने के बाद जमा कर दीजिये। अब समझिये आपका केवाईसी कम्पलीट हो गया है। क्योंकि केवाईसी फॉर्म जमा होने के 3 दिन के भीतर केवाईसी अपडेट हो जाता है।

आपको जानकारी के लिए बता दें कि कोरोना महामारी के चलते हुए लॉकडाउन में बहुत सारे बैंकों की वेबसाइट पर अब ऑनलाइन केवाईसी का विकल्प उपलब्ध है। ऑनलाइन केवाईसी करने के लिए संबंधित बैंक की वेबसाइट लॉग इन करना होता है। वेबसाइट लॉग इन करने के बाद ऑनलाइन केवाईसी विकल्प पर जाना होता है। इसके बाद सभी जरूरी जानकारी भरकर कागजातों की पीडीऍफ़ फाइल अपलोड करके सबमिट कर देना होता है। फॉर्म सबमिट होने के बाद आपका केवाईसी एक सप्ताह के भीतर हो जाता है। केवाईसी कम्पलीट होने का मैसेज और ईमेल आपको प्राप्त हो जाता है। इतना सिंपल है केवाईसी करना।

बुनियादी समस्याओं का हल

मैं बारह वर्षों से अपना कारोबार चला रहा हूं लेकिन अपने बिजनेस का विस्तार करने के लिए सक्षम नहीं था। मैंने Ziploan में आवेदन किया और उन्होंने मेरे लोन आवेदन को बहुत ही कम समय में मंजूरी दे दी।

मैंने अपने कारोबार की ज़रूरतों के लिए ZipLoan से संपर्क किया। कंपनी से लोन पाने की शर्तें पूरा करना आसान था। उन्हें सिर्फ 1 साल का ITR और बिजनेस का सालाना टर्नओवर 10 लाख तक की जरूरत थी।

मैंने हमेशा सोचता था कि लोन और क्रेडिट सुविधाएं केवल बड़े कारोबार के साथ बड़े व्यवसायों के लिए उपलब्ध होती हैं। मैंने कभी सोचा नहीं कि मैं भी बिजनेस लोन के लिए योग्यता प्राप्त करने के लिए सक्षम होऊंगा। Ziploan मेरे जैसे छोटे व्यवसायों के लिए वरदान है।

पेशाब का नमूना जमा करने की विभिन्न विधि समझाइए​

chhatrapalpatil91

कुछ मामलों में डॉक्टर आपको मूत्रमार्ग से ब्लैडर में कैथेटर डालने के बाद पेशाब के लिए कह सकता है। इसमें थोड़ी असुविधा होती है। यदि आपको यह तरीका असहज लगता है तो डॉक्टर से दूसरे वैकल्पिक तरीके के बारे में बात करें। सैंपल देने के बाद आपका काम हो जाता है। जमा करने की विधि उसके बाद सैंपल को लैब में भेजा जाता है या फिर अस्पताल में ही रहता है यदि वहां ज़रूरी उपकरण मौजूद हैं तो।

पेशाब की जांच के बाद क्या होता है?

आपका डॉक्टर परीक्षण के लिए इन तरीकों में से किसी एक या अधिक का इस्तेमाल कर सकता है:

इसमें डॉक्टर माइक्रोस्कोप के नीचे पेशाब की बूंद डालकर देखता है। वह निम्न की जांच करता है:

रेड ब्लड सेल्स या व्हाइट ब्लड सेल्स में असामान्याएं, जो संक्रमण, किडनी की बीमारी, ब्लैडर कैंसर या ब्लड डिसऑर्डर का संकेत हो सकता है।

क्रिस्टल जो किडनी स्टोन का संकेत हो सकते हैं।

संक्रमण फैलाने वाले बैक्टीरिया या यीस्ट।

एपिथिलियल सेल्स, जो ट्यूमर का संकेत हो सकता है।

इस टेस्ट के लिए डॉक्टर एक केमिकल उपचार वाली प्लास्टिक स्टिक को सैंपल में डालता है। कुछ पदार्थों की मौजूदगी के कारण स्टिक का रंग बदलने लगता है। इससे डॉक्टर को जांचने में मदद मिलती है-

बिलीरुबिन, मरे हुए रेड ब्लड सेल्स का उत्पाद

कॉन्संट्रेशन या खास ग्रैविटी

ph लेवल या एसिडिटी में बदलाव

पेशाब में पार्टिकल्स का हाई कॉन्संट्रेशन इस बात का संकेत है कि आप अच्छी तरह हाइड्रेटेड हैं। ph लेवल अधिक होना यूरिनरी ट्रैक्ट या किडनी की समस्या का संकेत है। शुगर की उपस्थिति डायबिटीज का संकेत है।

आपका डॉक्टर असामान्यताओं के लिए सैंपल की जांच करता है जैसे-

धुंधला दिखना, जो संक्रमण का संकेत हो सकता है

लाल या भूरा दिखना, जो पेशाब में रक्त की उपस्थिति का संकेत हो सकता है

यदि आपके मन में पेशाब की जांच से जुड़ा कोई सवाल है, तो कृपया अधिक जानकारी और निर्देशों को बेहतर तरीके से समझने के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

और पढ़ें: बार-बार पेशाब आने की समस्या को दूर कर देंगे ये आसान घरेलू उपाय

मेरे परिणामों का क्या मतलब है?

पेशाब की जांच के परिणाम आने के बाद डॉक्टर आपके साथ उसकी चर्चा करेगा।

यदि परिणाम असामान्य है तो दो विकल्प उपलब्ध होते हैं-

यदि आपको पहले किडनी की समस्या, यूरिनरी ट्रैक्ट से जुड़ी परेशानी या दूसरी संबंधित समस्याएं हुई हैं तो पेशाब में उपस्थित असामान्य पदार्थ के कारणों की जांच डॉक्टर आगे दूसरे परीक्षण या फिर से पेशाब की जांच के लिए कहेगा।

यदि आपमें बीमारी के कोई लक्षण या अन्य संबंधित स्वास्थ्य समस्याएं नहीं है और शारीरिक जांच में स्वास्थ्य सामान्य आता है तो किसी फॉलो अप टेस्ट की जरूरत नहीं है।

आमतौर पर पेशाब में प्रोटीन की न के बराबर मात्रा होती है, लेकिन प्रोटीन का स्तर कई कारणों से बढ़ सकता है जैसे-

बहुत अधिक गर्मी या ठंडी

शारीरिक और मानसिक तनाव

बहुत अधिक एक्सरसाइज

ये कारक आमतौर पर किसी गंभीर समस्या का संकेत नहीं है, लेकिन असामान्य रूप से प्रोटीन का अधिक स्तर उन स्थितियों का संकेत हो सकते हैं जो किडनी की बीमारी कारण बनती है, जैसे-

यदि आसामान्य रूप से प्रोटीन लेवल हाई होता है तो डॉक्टर इसके कारणों की जांच के लिए फॉलो अप टेस्ट का आदेश दे सकता है

सभी लैब और अस्पताल के आधार पर पेशाब की जांच की सामान्य सीमा अलग-अलग हो सकती है। परीक्षण परिणाम से जुड़े किसी भी सवाल के लिए कृपया अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

रेटिंग: 4.46
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 353
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *